बिहार के सियासी गलियारे से बड़ी खबर है कि वामदलों के साथ आरजेडी (RJD) की वार्ता सफल हो गई है और अब प्रदेश में वामदल (Left parties) भी महागठबंधन (Grand Alliance) का हिस्सा हो गए हैं. इनमें CPI और सीपीआई (M ) शामिल हैं. बताया जा रहा है कि सीट बंटवारे में वामदलों से भी सीट शेयर की जाएगी.

 इस बीच सीपीआई नेता रामनरेश पांडेय ने भी इस बात की पुष्टि कर दी है कि आरजेडी के साथ गठबंधन तय हो गया है. सीट को लेकर फिलहाल कोई परेशानी है क्योंकि एनडीए (NDA)को हराना ज्यादा जरूरी है, इसलिए गठबंधन में शामिल होने का फैसला ले लिया गया है.



बता दें कि बुधवार को आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष व लालू यादव के करिबी नेता जगदानंद सिंह से वामदलों की मुलाकात हुई और वामदलों की 9 सदस्यीय टीम के साथ घंटों विमर्श करने के बाद  गठबंधन में वामदलों के शामिल होने के फैसले पर मुहर लगा दी गई. हालांकि अब भी बिहार में भाकपा माले को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है कि वह महागठबंधन में शामिल होगा या नहीं.

बता दें कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के महागठबंधन से अलग होने के फैसले के बाद घटक दल ये शिद्दत से चाह रहे थे कि महागठबंधन में वाम दलों को शामिल किया जाए. गौरतलब है कि बुधवार को ही रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने अपनी पार्टी की बैठक में कहा था कि जीतन राम मांझी के गठबंधन से अलग होने के फैसले पर कहा कि मांझी का जाना गठबंधन के लिए दुखद है और हमें नुकसान हुआ है. गठबंधन का दायरा बढ़ाया जाना चाहिए और इसमें अब वामदलों को भी शामिल करना चाहिए.

Previous Post Next Post