Saturday, 5 September 2020

महागठबंधन में ‘ऑल इज वेल’: सीट बंटवारे पर बन गई बात ! NDA फेल, देखिए पूरी रिपोर्ट

बिहार : निर्वाचन आयोग ने कल शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बड़ा ऐलान कर दिया है। चुनाव आयोग के अनुसार 29 नवंबर से पहले चुनाव संपन्न करा लिया जाएगा। चुनाव आयोग की तैयारियों के बीच प्रदेश के दोनों प्रमुख गठबंधन के घटक दलों के बीच सीट बंटवारे को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। दोनों दलों के बीच ज्यादा से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ने को लेकर जोर-आजमाइश जारी है।


इस बीच महागठबंधन की ओर से खबर आ रही है कि महागठबंधन में सीटों को लेकर चल रही बात अब अंतिम दौर में पहुंचने लगी है। दो दिन पहले राजद से हुई वार्ता के बाद शुक्रवार को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ( रालोसपा ) नेताओं ने अपनी दावेदारी वाली सीटों का नाम राजद कार्यालय जाकर सौंप दी। बताया जाता है कि प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को सौंपी गई सूची में रालोसपा ने अधिसंख्य सीटों पर उम्मीदवारों के नाम भी दे दिये हैं। अनुसार रालोसपा ने पिछले चुनाव में लड़ी गई अपनी 23 सीटों के अलावा भी लगभग 25 यानि कुल 48 सीटों पर दावेदारी की है। हालांकि सीटों की संख्या को लेकर अभी कोई महागठबंधन की ओर से  बयान नहीं आया है।

रालोसपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश यादव और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र कुशवाहा शुक्रवार को दोबारा राजद कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह से मिले। बैठक में राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी भी थे। रोलासपा नेताओं ने बंद लिफाफे में सीटों और उम्मीदवारों की सूची राजद अध्यक्ष को दी। साथ ही, लगभग आधे घंटे तक चुनावी रणनीति पर भी चर्चा की।

बैठक के बाद बाहर निकल कर मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए रालोसपा नेता राजेश यादव ने कहा कि सभी 243 सीटों पर महागठबंधन मजबूती से लड़ेगा। सभी मुद्दों पर सहमति लगभग बन गई है। राजद की ओर से प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि हमलोगों के लिए सीटों की संख्या नहीं जीत मायने रखती है। इसी पर मंथन चल रहा है। कहा कि महागठबंधन में ‘ऑल इज वेल है एनडीए फेल है’।

ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा रांची जाकर लालू प्रसाद यादव से मिले थे। बताया जाता है कि उन्होंने लालू प्रसाद के सामने 45 सीटों की दावेदारी की थी। तब राजद प्रमुख ने उन्हें ‘पहलवान’ यानि उम्मीदवारों का नाम बताने का आग्रह किया था। दोनों नेताओं में इस बात पर उसी समय सहमति बन गई थी कि जहां जिसका उम्मीदवार जिताऊ होगा वहां उसी को टिकट दिया जाएगा। इसी परिपेक्ष्य में शुक्रवार को रालोसपा नेताओं ने सीटों की संख्या के साथ उम्मीदवारों के नाम भी दिये हैं।

बता दें कि बता दें कि बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को खत्म हो जाएगा. ऐसे में अगर तय समय पर चुनाव होने वाले हैं तो 29 नवंबर से पहले चुनाव करा लिए जाएंगे। इससे पहले चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव के प्रचार और मतदान प्रक्रिया के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी थी।

Share:

Blog Archive